आज का Hindi Urdu Words श्रृंखला में शब्द है "अर्ज़ानी" जिसका अर्थ है मंदी या भाव उतर जाना। इस शब्द का प्रयोग "इफ्तिखार आरिफ़ की ग़ज़ल (Iftikhar Arif Ghazal)" में बेहद उम्दा तरीके से किया है। 

Urdu alfaaz

Iftikhar Arif Ghazal In Urdu 

ये बस्ती जानी - पहचानी बहुत है,

यहाँ वादों की अर्ज़ानी बहुत है।


Ye Basti Jani-Pahchani Bahut Hai,

Yahan Waadon Ki Arzani Bahut Hai.


शगुफ़्ता लफ़्ज़ लिक्खे जा रहे हैं,

मगर लहजों में वीरानी बहुत है।


Shagupta Lafz Likhe Ja Rahe Hain,

Magar Lahazon Me Virani Bahut Hai.


सुबुक-ज़र्फ़ों के क़ाबू में नहीं लफ़्ज़,

मगर शौक़-ए-गुल-अफ़्शानी बहुत है।


Subuk-Zarfon Ke Kabu Me Nahi Lafz,

Magar Shauk-E-Gul-Afshani Bahut Hai.


है बाज़ारों में पानी सर से ऊँचा,

मिरे घर में भी तुग़्यानी बहुत है।


Hai Bazaron Me Pani Sar Se Uncha,

Mere Ghar Me Bhi Tugyani Bahut Hai.


न जाने कब मिरे सहरा में आए,

वो इक दरिया कि तूफ़ानी बहुत है।


Na Jane Kab Mere Sahra Me Aaye,

Wo Ek Dariya Ki Tufani Bahut Hai.


न जाने कब मिरे आँगन में बरसे,

वो इक बादल कि नुक़सानी बहुत है।


Na Jane Kab Mere Aangan Me Barse,

Wo Ek Badal Ki Nuksani Bahut Hai.


Read More Words


Conclusion :- इस पोस्ट में हमने "आज का Hindi Urdu Word "अर्ज़ानी" और इफ्तिखार आरिफ़ की ग़ज़ल" पेश की। "Iftikhar Arif Ghazal" के बारे में आप अपने ख़यालात Comment में आप बयां कर सकते हैं। 


Topic :- daily hindi urdu words, shabd sangrah, iftikhar arif ghazal etc.

Post a Comment

Previous Post Next Post