आज का हिंदी-उर्दू शब्द श्रृंखला में शब्द है "बारहा" जिसका अर्थ है बार-बार या प्रायः। इस शब्द का प्रयोग "साहिर लुधियानवी की ग़ज़ल (Sahir Ludhiyanavi Ghazal)" में साहिर साहब ने बेहद दिलचस्प तरीके से किया है। आपको बताना चाहेंगे इसे मशहूर फ़िल्म "हम दोनों (Hum Dono)" में मशहूर गायक "मोहम्मद रफ़ी (Mohmmad Rafi)" के द्वारा गाया गया है।

hindi urdu words

Sahir Ludhiyanavi Ghazal In Urdu

 

कभी ख़ुद पे, कभी हालात पे रोना आया,

बात निकली, तो हर इक बात पे रोना आया।

 

Kabhi Khud Pe, Kabhi Halat Pe Rona Aaya,

Baat Nikli, To Har Ek Baat Pe Rona Aaya.

 

हम तो समझे थे कि हम भूल गए हैं उनको,

क्या हुआ आज, ये किस बात पे रोना आया।

 

Hum To Samajhe The Ki Hum Bhul Gaye Hain Unko,

Kya Hua Aaj, Ye Kis Baat Pe Rona Aaya.

 

किस लिए जीते हैं हम किसके लिए जीते हैं,

बारहा ऐसे सवालात पे रोना आया।

 

Kis Liye Jeete Hain Hum Kiske Liye Jeete Hain,

Baraha Aise Sawalat Pe Rona Aaya.

 

कौन रोता है किसी और की ख़ातिर ऐ दोस्त,

सब को अपनी ही किसी बात पे रोना आया।

 

Kaun Rota Hai Kisi Aur Ki Khatir Aye Dost,

Sabko Apni Hi Kisi Baat Pe Rona Aaya.

 

Ebook Suggestion :

Rhyming Dictionary

 

Conclusion :- इस पोस्ट में हमने "आज का हिंदी-उर्दू शब्द "बारहा" और साहिर लुधियानवी की ग़ज़ल "रोना आया" पेश की। "Sahir Ludhiyanavi Ghazal" के बारे में आप अपने ख़यालात Comment में बयां कर सकते हैं। 


 Topics :- Shabd sangrah, Daily words, Hindi urdu words, Sahir ludhiyanavi ghazal.


Post a Comment

Previous Post Next Post