Naye Sal Ki Shayari 2020 | New Year Shayari 2020

नए साल का नया सवेरा
जीवन में लाए नया उजेरा
खुशियों का हो घर-घर डेरा
ऐसा हो हर एक नया सवेरा।
भेदभाव के मिटा सब निशान
मानवता की हम बने मिसाल
खुले उन्नति के नए-नए द्वार
आएं घर में खुशियां हजार
ढह जाएं नफरतों की सब दीवार
मिल जाएं दिल से दिल के तार
दुर्गुणों का हो समूल नाश
सद्गुणों का आयेअब राज।

Naye sal ki sayri

‌नव वर्ष मंगलमय हो 

नवल प्रभात की
नवल रश्मियों से
आलोकित जीवन पथ हो
बहे हृदय में प्रेम की धारा
दूर उर का तम हो
नव वर्ष मंगलमय हो।
मिट जाएं सब राग- द्वेष
बस अपनत्व ही अपनत्व हो
नई उम्मीद नई आशाओं से
पुलकित यह जीवन हो
नव वर्ष मंगलमय हो।
छट जाएं दुःख के बादल
विघ्न बाधाएं सब खत्म हो
फूल खिलें खुशियों के
घर आंगन में
चहुंदिश फैले प्रेम सुगंध हो
नव वर्ष मंगलमय हो।

नया सवेरा

नए साल का नया सवेरा
खुशियों से भर जाए
दुःख की काली रात
कभी लौट न वापस आए
सुख समृद्धि और आनंद से
घर आंगन भर जाए
नए अनुभवों के नए रंग से
जीवन यह रंग जाए
सूरज की नई रोशनी
आस नई जगाए
फूलों की तरह हर सपना
सच हो के मुस्काए
कामयाबी के फूल
हर कदम पर खिल जाए
सफलताओं का सर्वोच्च शिखर
आपको मिल जाए।

- सुनील कुमार
पता- ग्राम फुटहा कुआं
निकट पुलिस लाइन
जिला-बहराइच, उत्तर प्रदेश।

Post a Comment

Previous Post Next Post