Haryanvi Song Kaise Likhe | Haryanvi Gana Kaise Likhe

वेलकम writers, आज के इस लेख में हम "Haryanvi Song Kaise Likhe" और "Haryanvi Gana Kaise Likhe" के आपके प्रश्नों का उत्तर देने वाले हैं। उम्मीद है हम आपको जानकारी देने में जरूर सफल होंगे। हरियाणवी गाना कैसे लिखें इस प्रश्न को कई बार हमसे पूछा गया है। जबकि हमने इससे जुड़े कई articles आपसे share किये थे। इसीलिए हम आज इस particular topic पर बात कर रहे हैं ताकि जो भी इस Topic "Haryanvi gana kaise likhte hain" को search कर रहे हैं, तो इस लेख तक पहुंच पाए।

Haryanvi gana kaise likhe

हमेशा की तरह आज भी हम अपनी research के अनुसार आपको बताना चाहेंगे कि internet पे आपको कई इस topic पर videos और article मिल जाएंगे। लेकिन उनमें हमने देखा है उसमें song कैसे लिखना है और उसमें क्या ध्यान रखना है, ये Creators को नहीं बताया जाता। बल्कि केवल उनके द्वारा लिखे गए गाने को present कर दिया है। आप भी बताये क्या महज किसी के लिखे गाने को देखके ही आप लिखना सीखेंगे या आपके उसके नियमों और जरुरी चीजों को भी बताना चाहिए। शायद आप अच्छे से समझ गए होंगे कि आज इस लेख में हम अन्य की तरह फालतू बातें नही बल्कि काम की बाते ही करेंगे।

Haryanvi Song Lyrics Format

आप भी जानते हैं कि किसी भी गाने को लिखने के लिए उसके format को समझना जरूरी होता है। आपने देखा होगा हमारे भारत में कई भाषा के कवि हैं जैसे हिंदी भाषा के कवि, हरियाणवी भाषा के कवि और राजस्थानी भाषा के कवि आदि। सभी अपनी-अपनी भाषा में लिखते हैं। यहां आप खुद सोचिये भाषा भले ही अलग हो क्या उनके नियम अलग होंगे। नहीं ना, बस लिखने के नियम वही रहते हैं चाहे आप किसी भी भाषा में लिखो। ठीक उसी तरह जिस प्रकार hindi gane लिखें जाते हैं, वैसे ही अन्य भाषा के गाने भी लिखें जाते हैं। आपको भी वही format follow करना होता है। अब इसमें क्या होता है वो हम आपको पहले बता चुके हैं। लेकिन में short में आपको बता देता हूँ।

Hariyanvi gana kaise likhe

Hookline या मुखड़ा : अगर आप हरियाणवी गाने लिखना चाहते हैं, तो आपको गाने में सबसे पहले मुखड़ा लिखना होता है। मुखड़ा या hookline गाने का वो खास हिस्सा होता है, जिसे गाने के बीच में बार-बार गाया जाता है और जो उस song के title का भी काम करता है।

Verse या अंतरा : गाने की जो खास feeling है, वो गाने की verse और अन्तरे में ही कही जाती है। इसके बिना आप कोई भी गाना नहीं लिख सकते। verse की हर line धुन पे या मीटर पे लिखी गई होती है, जिससे वो हर line धुन पे set हो पाती है।

Rhyming Words या तुकांत शब्द : गाने की कोई भी line हो चाहे वो मुखड़े की हो या अंतरे की हो। उसमें rhyming word जरूर होता है। आपने कई सारे गीत सुने होंगे उन सभी को गाना इसीलिए आसान हो पाता है क्योंकि उनमें इसका एक अहम रोल होता है। example के लिए कविता कोश पर आपको कई हरियाणवी गीत मिल जाएंगे। जिनमें एक सांझी गीत हमने देखा जिसका उदाहरण हम आपको देना चाहेंगे- 

जाग सांझी जाग तेरे मात्थे लाग्या भाग,
पीली पीली पट्टियां सदा सुहाग,
मेरी सांझी के औरे धोरै चोल्यां की मुट्ठी हे,
मैं तने बुज्झूं संझा तेरी कै तोल्यां की गुट्ठी हे।

यहां शुरुआत की दो line में भाग, सुहाग एक दूसरे के rhyming word है। इसी तरह आगे मुट्ठी और गुट्ठी एक दूसरे के rhyming word हैं।

दोस्तों, हरियाणवी गाना लिखने के लिए आप हिंदी भाषा के शब्दों को भी इसमें मिक्स कर सकते हैं। इससे आपका गाना बहुत impressive बनता है। आप चाहे तो हरियाणवी शब्दों को तुकांत शब्दों में use कर सकते हैं और इसके अलावा आप हिंदी के तुकांत शब्दों को भी use कर सकते हैं। जैसे आप मुट्ठी और गुट्ठी के उदाहरण को देख सकते हैं।
अगर आप गाना लिखने की शुरुआत कर रहे हैं, तो आपको थोड़ा बहुत लिखना आना चाहिए। जैसे lines को rhyming words को use करके कैसे लिखते हैं। इसके साथ ही एक सही structure में हम "poetry कैसे लिखते हैं" ये भी आपको आना चाहिए। मुझे नहीं लगता इस knowledge के बिना आप एक बेहतरीन lyrics लिख पाएंगे। आप लिख तो पाएंगे लेकिन इतना बेहतर नहीं। इसीलिए अगर आप इस knowledge को लेना चाहते हैं, तो आप नीचे दी गई हमारी 2 ebooks को ख़रीदके पढ़ सकते हैं।


तो दोस्तों, आज के इस लेख में हमने "Haryanvi Song Kaise Likhe" और "Haryanvi Gana Kaise Likhe" के बारे में जानकारी दी है। अगर आपको ये जानकारी अच्छी लगे, तो आप हमारे साथ जरूर सक्रिय रहें। ज्यादा जानकारी के लिए आप हमारे YouTube Channel को Subscribe कर सकते हैं।


- लेखक योगेन्द्र "यश"

Post a Comment

Previous Post Next Post