Gulzar Poetry & Lyrics Books In Hindi | Lyrics Or Poetry Likhne Ke Liye Jarur Padhe

वेलकम writers, आज की इस post में हम "Gulzar Poetry & Lyrics Books In Hindi" के बारे में बताने वाले हैं। अगर आप भी "गुलज़ार की कविताएं और गीत" पढ़ना  चाहते हैं, तो आज की ये post आपके लिए ही है। दोस्तों, गुलज़ार की कविताओं और गीतों की किताबें खरीदने से पहले आपको ये लेख जरूर पढ़ना चाहिए।

दोस्तों, गुलज़ार को आखिर कौन नहीं जानता। आज लाखों करोड़ों लोग Gulzar Poetry को Whatsapp Status के रूप में Use करते नज़र आते हैं। लेकिन अफसोस की उन्हें पता नहीं होता कि ये पंक्तियां आखिर गुलज़ार साहब की है। शाम से आंख में नमीं सी है, आज फिर आपकी कमी सी है, जैसी महान पंक्तियां लिखने वाले गुलज़ार साहब कई bollywood Movies के लिए सैकड़ों गीत लिख चुके हैं। इतना ही नहीं इनके लिखें गीतों को लता मंगेशकर और उदित नारायण जैसे महान singers ने अपनी आवाज दी है।

Gulzar Poetry In Hindi

गुलज़ार साहब एक महान कवि होने के साथ-साथ एक महान गीतकार भी रहे हैं। इनके एक-एक शे'र इतनी बड़ी बात कह जाते हैं कि सुनते ही हमारे रोंगटे खड़े हो जाते हैं। वो उम्र कम कर रहा था मेरी, मैं साल अपने बढ़ा रहा था, जैसे शे'र लिखने वाले गुलज़ार साहब की ऐसी रचनाएं पसन्द करने वाले इनके प्रशंसक दिन-दिन बढ़ रहे हैं। एक नवीन रचनाकार जो song lyrics और poetry आदि लिखने की शुरुआत कर रहा है, तो उन्हें इनकी रचनाओं को जरूर पढ़ना चाहिए। हमें रोजाना कई मैसेजेस आते हैं, जिनमें नवीन रचनाकार हमसे हमारी लिखी गई lyrics मांगते हैं ताकि वो उन्हें पढ़कर lyrics लिखना सीख सके। ऐसे में हम ऐसे नवीन रचनाकार को यही सुझाव देंगे कि अगर Poetry और Lyrics पढ़नी ही है, तो उन्हें गुलज़ार साहब की रचनाएं पढ़नी चाहिए।

आज हम गुलज़ार साहब के गीतों और poetry की एक Book के बारे में बता रहे हैं, जिसमें आपको उनके द्वारा लिखी गई कुछ poetries मिलेगी। ये पुस्तक गुलज़ार साहब की poetries का एक अच्छा collection है। इस पुस्तक को एक song लिखने वाले और poetry लिखने वाले को इसलिए पढ़ना चाहिए क्योंकि गुलज़ार साहब की एक खासियत है कि वो हर तरह की lyrics आदि लिखने में poetry को importance देते हुए चलते हैं। गुलज़ार साहब की इस पुस्तक का नाम है "रात पश्मीने की"। ये पुस्तक रूपा पब्लिकेशन के द्वारा 2002 में प्रकाशित की गई पुस्तक है, जो हिंदी language में है।

इस पुस्तक Amazon पर Paperback Format और Kindle Edition Format दोनों Format में available है। अगर आप इसे Paperback Format में खरीदना चाहते हैं, तो आपको ये 220 रुपये में और अगर आप इसे Kindle Edition Format में खरीदना चाहते हैं, तो आपको ये 66 रुपये में पड़ती है। अगर आप गुलज़ार साहब की इस book को ख़रीदके पढ़ना चाहते हैं, तो नीचे दिए गए link पे click करके आप इसे खरीद सकते हैं।


आज के इस लेख में हमने "Gulzar Poetry & Lyrics Books In Hindi" के बारे में बताया। गुलज़ार साहब की इस book को आप जरूर खरीदें और पढ़े।

Post a Comment

Previous Post Next Post