Breaking

Saturday, 20 July 2019

02:21

तरन्नुम में शायरी कैसे लिखें - How To Write Shayari

तरन्नुम में शायरी कैसे लिखें - How To Write Shayari 

Shayari कैसे लिखनी है इस विषय पर हम बात कर चुके हैं। आज हम इस लेख में "तरन्नुम में शायरी कैसे लिखें" ये जानने वाले हैं। अगर आप भी shayari लिखने में intrested हैं, तो आप इस post को ध्यान से पढ़ियेगा।

तरन्नुम में shayari लिखना यानी गुनगुनाते हुए lines लिखना। कई शायर तरन्नुम में शायरी पेश करते हैं, जिन्हें देख आपको भी ये लगता है कि आप भी अपनी lines को तरन्नुम में पेश करें। लेकिन जब आप अपनी लिखी shayari पर धुन बनाने का सोचते हैं, तो आप उस पर धुन बना ही नहीं पाते। इसका कारण है कि आपकी लिखी lines पूरी तरह से किसी भी मीटर में नहीं होती।

Tarannum me shayari kaise likhe

यदि आप चाहते हैं कि आपकी shayari आप तरन्नुम में गा पाओ, तो वो shayari ग़ज़ल की किसी बहर या किसी निश्चित मीटर में लिखी हुई जरूर हो। अन्यथा आप अपनी शायरी को तरन्नुम में नहीं गा पाओगे। अब आपके सामने ये चुनौती आ जाती है कि आपको मात्रा गिनना नहीं आता जिसकी वजह से आप shayari को किसी मीटर में write नहीं कर पाते हैं। लेकिन इसका एक रास्ता है, जिससे आप बिना मात्रा आदि गिने अपनी शायरी को तरन्नुम में लिख सकते हो।

सबसे पहले आपको ये करना है आपको कोई भी song की एक line की धुन पकड़ लेनी है। उसके बाद उस धुन पर आपको एक line लिखनी है। जब आप एक line उस धुन पर लिख देंगे। उसके बाद आपको उस एक line में से काफ़िया और रदीफ़ या तुकांत शब्द का चुनाव करना है। आप किस शब्द के rhyming words लेना चाहते हैं ये सोचना है। जब आप काफ़िया रदीफ़ या rhyming words का चुनाव कर लेंगे उसके बाद दूसरी पंक्ति भी उसी धुन पर गुनगुनाते हुए लिखनी पड़ेगी। पर यहां आपको काफ़िया रदीफ़ (rhyming words) दिमाग में रखकर गुनगुनाना है।

जब आप 2 लाइन लिख देंगे तब आपका 50% काम हो जाएगा। अब आपको 2 लाइन और चाहिए। अब आप तीसरी लाइन लिखने से पहले तुकांत शब्द को ध्यान में रखकर shayari के लिए चौथी line लिखेंगे। चौथी लाइन भी आपको वही धुन गुनगुनाते हुए लिखनी है। अब आपके पास तीसरी लाइन की कमी है। अब फिर से आपको उसी धुन का सहारा लेकर shayari की तीसरी लाइन लिखनी है। लेकिन इस पंक्ति में ध्यान रहे काफ़िया रदीफ़ नहीं होता है।

Shayari की तीसरी लाइन आपको ये मानकर लिखनी है कि चौथी लाइन अधूरी है। उसके भाव को मिलाने वाली लाइन आपको लिखनी है। जब आप उस धुन को गाके shayari की चारों lines लिख देंगे, तो वो चारों line एक निश्चित मीटर में लिखी हुई होगी। ध्यान रहे वो धुन सिर्फ आधार के लिए हमने सोची थी ताकि पंक्तियां मीटर में लिखी जा सके। अब आप अपनी shayari पर मनचाही धुन बनाके उसे तरन्नुम में पेश कर सकते हैं। अगर आपको ये लेख "तरन्नुम में शायरी कैसे लिखें" अच्छा लगा हो, तो उसे शेयर जरूर करें।

- कवि/लेखक योगेन्द्र जीनगर "यश"

Tuesday, 25 June 2019

20:51

युवा पीढ़ी को समर्पित एक कविता

युवा पीढ़ी को समर्पित एक कविता

क्यूँ डरते हो तुम बलिदानों से,
कुछ करना है तो रक्त बहाओ।
घुट घुट कर जीने से बेहतर,
मर जाओ या चेत जगाओ।

खुद में इतनी जोश जगाओ,
गिर जाओ फिर होश में आओ।
गिरना भी एक अहम कड़ी है,
पहचानों,आगे बढ़ जाओ।


मुश्किलों में इतनी बात नही है,
रोक सकें,औकात नहीं है।
तुमसे बढ़कर और न दूजा,
जीने की जज्बात यही है।

ख्वाबों को तुम ऊँचे रखना,
कर्मठता से सींचे रखना,
अपने श्रम पर आश्वस्त रहकर,
बाण धनुष में खींचे रखना।

क्यूँ तेरा चंचल सा मन है,
शिथिल और निश्चल सा तन है,
उठो मिटाओ आलसपन को,
यह जीवन का निष्ठुर रण है।

अब वो सब कुछ पाना है,
निष्ठुरता को हराना है,
झुकना तेरा काम नहीं,
असफलता को झुकाना है।

बस उठने की देरी है,
यह संसार तुम्हारा होगा,
विजय तिलक संग ढोल नगाड़े,
जय जयगान तुम्हारा होगा।

जब भी तुम सफलता पाना,
औरों को पहचान कराना,
उन्नति का तुम पाठ पढ़ाना,
भारत माँ का मान बढ़ाना।

- नवीन कुमार राव

Wednesday, 12 June 2019

09:11

Love poetry | Heart touching shayari

Love poetry | Heart touching shayari

Mohbbt Ki Har gali gumnam kyon hai,
Mohbbt hi zaleel shreaam kyon hai,
Krte hai log mohbbt sache dil se,
Fr ye mohbbt nilaam kyon hai.

Pyar krne walo Ki bhi ajib khaani hai,
Kr liya jisne, jaan hi begaani hai,
Krte hai badnaam sab pyar krne walo ko,
Khud hai nadaan ya phir dil Ki baemaani hai.

Love poetry

 Dil Ki gehrai mein aakar to dekho,
Taal se taal milakar to dekho,
Zindgi Ki sanse na luta di to kehna,
Hath Apna aage badha kar to dekho
.
Jab Ki shuruaat pyar Ki,
To gulaab usi ka tha,
Doobne lage pyar ke dariya mein,
To chnaab usi ka tha,
Chand minto ke liye laga,
Krlu khuda Ki khudai ankhen band Ki to naqaab usi ka tha,
Socha krlu umaar bhar ka sath,
Apna hath aage badhaya to jawaab bhi usi ka tha.

Hum bhi kisi ke hazoor hua krte the,
Apne hi ishq mein Mashoor hua krte the,
Na pasand krte hai Jo aaj Hume,
Kabhi unhi Ki ankhon ka saroor hua krte the.

" Preet "
From- mandi dabwali hryana 

Friday, 7 June 2019

21:44

छंद मुक्त कविता क्या है और कैसे लिखें

छंद मुक्त कविता क्या है और कैसे लिखें

दोस्तों, आज के इस लेख में हम "छंद मुक्त कविता क्या है और कैसे लिखें" के बारे में जानकारी देने जा रहे हैं। इसलिए अगर आप भी इसके बारे में जानने के इच्छुक हैं, तो आप छंद मुक्त कविता से जुड़े इस लेख को पूरा जरूर पढ़ें।

छंद मुक्त कविता क्या है

Chhand mukt kavita kaise likhe

सबसे पहले हम छंद मुक्त कविता क्या है ये जानेंगे। क्योंकि आपको लिखने से पहले ये जानकारी होनी चाहिए। दोस्तों, छंद मुक्त कविता उस कविता को कहते हैं, जो छंद के नियमों से स्वतंत्र रहती है। जिसे बिना छंद के नियमों को ध्यान में रखकर लिखा जाता है। लेकिन आज के वक्त में लोग छंद मुक्त कविता का अर्थ गलत समझ लेते हैं। वो इसलिए क्योंकि छंद मुक्त कविता छंद से मुक्त होती है। लेकिन इसका मतलब ये नहीं कि उसमें शब्दों के अनुशासन पर ध्यान न दिया जाए। छंद मुक्त कविता भले ही छंद के नियमों से मुक्त रहती है। लेकिन ऐसी कविताओं में भी हमें शब्दों के अनुशासन को ध्यान में रखना चाहिए। तो दोस्तों, आपको ये जानकारी तो हो गई होगी कि छंद मुक्त कविता क्या होती है।

छंद मुक्त कविता कैसे लिखें

कविता भला कौन नहीं लिखना चाहता। हर व्यक्ति अपने जीवन में एक बार कविता लिखने का तो सोचता ही है। लेकिन छंद का ज्ञान न होने से उन्हें यही डर खाता है कि वो कविता नहीं लिख सकते। अगर आपको भी ये डर खाता है, तो आप इस डर को अभी दूर कर लें। क्योंकि ये कविता लिखने का पहला स्तर है। कोई भी कवि सीधे ही छन्दबद्ध कविता नहीं लिखता है, बल्कि वो छंद मुक्त कविता से ही शुरुआत करता है। इसलिए अगर आपने अब तक कविता लिखने की शुरुआत नहीं कि है, तो आप भी छंद मुक्त कविता लिखने की शुरुआत कर लीजिए।

छंद मुक्त कविता लिखने के लिए आपको छंद के नियमों का ध्यान नहीं रखना है। हां लेकिन आपको शब्दों के अनुशासन को हमेशा ध्यान में रखना होता है। क्योंकि जब आप शब्दों के अनुशासन को ध्यान में नहीं रखकर शब्दों को जबरदस्त ठूस देते हैं, तो आपकी कविता सही नहीं होती है। छंद मुक्त कविता लिखने के लिए आप दो तरह से इसे लिख सकते हैं पहली अतुकांत कविता जिसमें तुकांत शब्दों की जरूरत नहीं होती और दूसरी तुकांत कविता जिसमें तुकांत शब्दों की जरूरत होती है।

आपको सबसे पहले अतुकांत कविता से शुरुआत करनी चाहिए। क्योंकि इसमें आप अपने मन के भावों को सीधे ही गद्य तरीके से स्वतंत्र रूप से लिख सकते हैं, बस आपको इस कविता को एक सही ढांचे में व्यवस्थित करना होता है। अगर आपको नहीं पता है कि अतुकांत कविता कैसे लिखी जाती है, तो आप हमारा लेशन "अतुकांत कविता कैसे लिखें" जरूर पढ़ें।

जब आप अतुकांत कविता लिखना सीख जाएं, तो आप अपने स्तर को बढ़ाएं और आप तुकांत कविता लिखना शुरू करें। इसके लिए आपको कई तरह के तुकांत शब्द मिल जाते हैं। तुकांत शब्द आप हमारी वेबसाइट पर भी देख सकते हैं। आपको केवल दो-दो पंक्ति सबसे पहले लिखनी चाहिए ताकि आप तुकांत शब्दों का प्रयोग करना सीख जाएं। इसके बाद आप पूरी कविता लिखें। तुकांत कविता कैसे लिखी जाती है इसके लिए आप हमारा लेशन "तुकांत कविता कैसे लिखें" जरूर पढ़ें।

क्या छंद मुक्त कविता लिखना सही है

इस बात का ज़िक्र मैंने पहले ही कर दिया है कि कविता लिखने का पहला स्तर छंद मुक्त कविता ही होता है। हां, लेकिन ये आप पर निर्भर करता है कि आप अपने लिखने के स्तर को बढ़ाना चाहते हैं या नहीं। मान लीजिए आप कई वर्षों तक अतुकांत कविता लिखते रहते हैं और अच्छी लिखने लग जाते हैं तब आपको अपने स्तर को बढ़ाना चाहिए। तब आपको छंद सीख लेने चाहिए। अपने सीखने का स्तर आप खुद निश्चित करते हैं।

तो दोस्तों, आशा करता हूँ ये लेख "छंद मुक्त कविता क्या है और कैसे लिखें" आपके लिए जरूर सहायक रहा होगा और ये भी आशा करता हूँ कि कविता लेखन में ये लेख आपके डर को जरूर खत्म कर देगा।

- लेखक योगेन्द्र जीनगर "यश"

Thursday, 16 May 2019

01:59

पूछताछ

नमस्ते दोस्तों, आज हम आपकी समस्याओं पर समाधान के लिए एक ओनलाइन प्लेटफोर्म तैयार कर रहे हैं, जहां आप लेखन से संबंधित सभी समस्याओं पर अपना जवाब पा सकेंगे। अगर आपकी लेखन से जुड़ी कोई भी समस्या है, तो आप हमें इस पोस्ट के नीचे दिए गए कमेंट बाॅक्स में कमेंट करके पूछ सकते हैं। आपके प्रश्न का जवाब हम सुबह 10 से 12 और शाम 5 से 6 बजे के मध्य में देने का प्रयास करेंगे। यूट्यूब चैनल के कमेंट में पूछे गए प्रश्नों का जवाब हम नहीं दे पाएंगे। आपसे निवेदन है आप हमें इस प्लेटफोर्म पर अपने प्रश्न पूछें।

धन्यवाद।

पूछताछ

Wednesday, 15 May 2019

21:33

How To Write Slogan | Slogan kaise likhe

How To Write Slogan | Slogan kaise likhe

दोस्तों, आज के इस लेख में हम "How To Write Slogan" और "slogan कैसे लिखें" ये जानने वाले हैं। अगर आप भी विज्ञापन आदि के लिए slogan लिखना चाहते हैं, तो आप इस लेख को पूरा जरूर पढ़ें।

Slogan kaise likhe

दोस्तों, slogan एक ऐसी चीज है, जो customers को product खरीदने के लिए आकर्षित करती है। किसी भी product का यदि advertisement देना है, तो साथ में एक slogan लिखना होता है, ताकि customers को product खरीदने के लिए impress किया जा सके। इतना ही नहीं कई बार आए दिन रैलियों का आयोजन किया जाता है। जैसे कन्या भ्रूण हत्या के लिए जागरूकता रैली आदि। ऐसी रैलियों के लिए slogan की जरूरत पड़ती है।

अगर आप जागरूकता रैली लिखने के लिए slogan लिखना चाह रहे हैं, तो याद रहे आपके slogan में जागरूकता का संदेश होना चाहिए। उदाहरण के लिए बेटी के लिए slogan ये होगा - सबको बात समझानी है, बेटी हमें बचानी है। अगर आप किसी product के लिए slogan लिखना चाहते हैं, तो आपको उसमें customers को product की ओर खींचने और खरीदने के लिए आकर्षित करने वाली बात लिखनी होगी जिससे ग्राहक उस product को खरीदने के लिए तैयार हो जाये। जैसे - हमारा एक ही उसूल, आपके पैसे हो वसूल। अगर कोई offer चल रहा है, तो भी उसके लिए slogan लिखें जा सकते हैं, बस आपको ये ध्यान रखना है कि उसमें संदेश क्या देना है।

अब आपको slogan लिखने के लिए 2 चीजें ध्यान रखनी चाहिए। पहला rhyming words जिसे हम सम तुकांत शब्द कहते हैं और दूसरा लय। rhyming words क्या होते हैं इसके लिए आप हमारी post rhyming words क्या है जरूर पढ़ें। rhyming words slogan के लिए एक तरह से सबसे खास चीज होती है। इसके बिना slogan लिखना नामुमकिन होता है। slogan की दोनों line में last में एक जैसे शब्द जो होते हैं, वही rhyming words हुआ करते हैं। जैसे - आओ, पाओ।

अब दूसरी चीज है लय। आपको slogan की दोनों line लिखते समय ये ध्यान रखना है कि वो दोनों एक लयबद्ध तरीके से बोली जा सके। अगर आप लयबद्ध तरीके से slogan लिखेंगे, तो वो customers को सुनने में अच्छा भी लगेगा और वो उससे impress भी हो जाएंगे।

ऐसा करके आप एक अच्छा slogan लिख सकते हैं। तो दोस्तों, आज हमने "How to write slogan" और "slogan kaise likhe" ये जाना। उम्मीद है आपको slogan कैसे लिखते हैं ये समझ आ गया होगा।

Monday, 6 May 2019

20:13

एक अच्छी Story का क्या करें

एक अच्छी Story का क्या करें

दोस्तों, आज के इस लेख में हम "एक अच्छी story का क्या करें" ये जानने वाले हैं। अगर आपके पास भी कोई अच्छी story यानि कहानी है और आपको लगता है कि अब इसका क्या करें, तो आप हमारे इस लेख को पूरा जरूर read करियेगा।

Kahani lekhan

दोस्तों, कई लोग हैं जिनकी अपनी एक कहानी होती है और जो लिखना पसन्द करते हैं। ऐसे लोग लिखकर अपनी कहानी को लोगों को प्रेरित करने के उद्देश्य से बताना चाहते हैं। लेकिन ऐसे कहानीकार अवसर की तलाश में रह जाते हैं कि आखिर story का क्या करना चाहिए। अगर आपके पास भी कोई अच्छी story है, तो आज हम आपको बता रहे हैं कि आपको उस story का क्या करना चाहिए।

दोस्तों, आपने देखा होगा कि कई ऐसी magazine's होती है, जिनमें story publish की जाती है। ऐसे में आपको भी सबसे पहले इस अवसर का लाभ ले लेना चाहिए। सबसे पहले आप अपनी story को ऐसी magazine's में प्रकाशित करवाकर प्रकाश में लाये ताकि वो आपके नाम से प्रकाशित हो जाये।

उसके बाद आपको लगता है कि आपकी कहानी ऐसी है जिसे फ़िल्म के द्वारा बताया जा सकता है, तो आप अपने स्तर पर उसे बनवा सकते हैं। अगर आप ऐसा नहीं कर सकते हैं, तो आप अपने शहर आदि के किसी film director से मिले और उन्हें अपनी story सुनाए। यदि उसे आपकी कहानी पसन्द आयी, तो हो सकता है आपकी story पर कोई फ़िल्म भी बन जाये। ऐसे में आपको नाम तो मिलेगा ही साथ ही आपकी story को एक अच्छे तरीके से लोगों तक पहुंचा दिया जाएगा।

अगर आपके पास कोई short story है और आप उसे अपने लेवल पर बनाते हैं, तो हर साल कई ऐसे अवसर आपके पास आते हैं, जिनमें ऐसी short films पुरस्कार के लिए आमंत्रित की जाती है। अगर आप news paper पढ़ते हैं, तो आप ऐसे अवसरों का फायदा उठा सकते हैं। इतना ही नहीं अगर आप फ़िल्म भी नहीं बनाना चाहते हैं, तो ऐसे भी कई अवसर आपके पास आते हैं, जिनमें लिखी हुई stories पुरस्कार के लिए आमंत्रित की जाती है।

तो दोस्तों, आज हमने "एक अच्छी Story का क्या करें" ये जाना। उम्मीद है अब आप अपनी लिखी story को एक सही दिशा दे पाएंगे।